लिपुलेख विवाद में नेपाल ने भारतीय सीमा पर भेजा अपनी फोर्स

0
97

लिपुलेख विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है बल्कि बढ़ता ही जा रहा है|क्योंकि नेपाल ने हाल ही में बयान दिया है कि भारत जिस जमीन पर सड़क का निर्माण किया है वह जमीन नेपाल का है| इस जमीन को लीज पर तो दे दिया जा सकता है पर इस पर अपना हक नहीं छोड़ा जा सकता |इसी पर नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ने एक बैठक बुलाई थी जिसमें बड़े-बड़े नेताओं के साथ-साथ पूर्व प्रधानमंत्री भी शामिल थे |

यह विवाद तब सामने आया जब 8 मई को राजनाथ सिंह ने लिपुलेख से गुजरने वाले उत्तराखंड मानसरोवर रोड का उद्घाटन किया| लिपुलेख का सीमा भारत चीन और नेपाल से लगता है, नेपाल का कहना है कि या उसका जमीन है इसलिए नेपाल में भारत विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं|यह विवाद इसलिए भी बढ़ता जा रहा है क्यूंकि  नेपाल सरकार का कहना है कि भारत ने उसके इलाके में 22 किलोमीटर रोड का निर्माण किया है|

यह विवाद नेपाल में थमता नजर नहीं आ रहा इसलिए नेपाल ने एक बड़ा फैसला लेते हुए इस सप्ताह बुधवार को अपनी फोर्स महाकाली नदी के पास तैनात कर दी और एपीएफ के फोर्स ने सीमावर्ती गांव में अपनी चौकी स्थापित कर ली जिसके कारण दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here