अब मजदूरों को चार्टर्ड प्लेन से होगी घर वापसी पढ़े पूरी रिपोर्ट

0
93

कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया लॉक डॉन में जकड़ी हुई है लेकिन भारत की बात की जाए तो इसका सबसे ज्यादा असर श्रमिक मजदूरों पर पड़ा है जो कि पिछले 3 महीनों से अलग-अलग राज्यों में फंसे हुए हैं, लेकिन अब तक उन्हें पूरी तरीके से वहां से नहीं निकाला गया है इसी को लेकर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्र सरकार से मजदूरों को लाने के लिए चार्टर्ड प्लेन की मांग की है|

मुख्यमंत्री ने अमित शाह को लिखी चिट्ठी

इसके लिए मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी भी लिखी है|झारखंड सरकार ने चार्टर्ड प्लेन की मांग को लेकर यह कारण बताया है कि लद्दाख, अंडमान एंड निकोबार और नॉर्थ ईस्ट स्टेट में फंसे मजदूरों को अन्य परिवहन के माध्यम जैसे बस या ट्रेन से लाना संभव नहीं है |इसलिए हेमंत सोरेन ने लिखा कि इन इलाकों से मजदूरों को चार्टर्ड प्लेन से लाने की मंजूरी मिल जाती है तो वह लोग अपने घर पहुंच सकेंगे|

हेमंत सोरेन ने पत्र में यह भी लिखा कि जब से नरेंद्र मोदी सरकार ने श्रमिक मजदूरों को लाने की घोषणा की है तब से झारखंड में अब तक डेढ़ लाख से ज्यादा मजदूरों की घर वापसी हो गई है |वहीं मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि हमारे मजदूरों की जान कैसे बचे जो आए दिन मौत के आगोश में जा रहे हैं|आज इस संक्रमण में मजदूरों को घर वापसी पर मंथन कर रहे हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here